Categories
विदेश

पाकिस्तान के झूठ का पर्दाफाश, आतंकी मसूद अजहर के ठिकाने का पता चला

नई दिल्ली। पड़ोसी देश पाकिस्तान का झूठ एकबार फिर बेनकाब हो गया है। उसने हाल में आतंकी मसूद अजहर के लापता होने की बात कही थी, लेकिन अब पता चला है कि वह पाकिस्तान में ही छिपकर रहा है और पाकिस्तान सरकार को इसकी जानकारी भी है। बहावलपुर में ही छिपा है मसूद अजहर

भारत का मोस्ट वॉन्टेड आतंकी मसूद अजहर

भारत का मोस्ट वॉन्टेड आतंकी मसूद अजहर फिलहाल पाकिस्तान के बहावलपुर शहर में रह रहा है।
बहावलपुर के रेलवे लिंक रोड पर उसका ठिकाना है।
जिस जगह मसूद अजहर छिपा है वह बहावलपुर आतंकी हेडक्वॉर्टर के पीछे है।
वहां काफी तगड़ी सिक्यॉरिटी भी है।
कहा तो ये भी जाता है कि जहां मसूद अजहर छिपा है,
उस घर में बम हमले का भी कोई असर नहीं होगा।

अजहर के अन्य ठिकानों का भी पता चला

मसूद के अन्य तीन ठिकानों का भी पता चला है। इसमें कसूर कॉलोनी बहावलपुर, मदरसा बिलाल हबसी खैबर पख्तूनख्वा और मदरसा मस्जिद-ए-लुकमान खैबर पख्तूनख्वा शामिल हैं। बता दें कि 2016 में हुए पठानकोट हमले से संबंधित जो डोजियर पाकिस्तान को सौंपा गया था उसमें एक फोन नंबर ऐसा था जिसका लिंक बहावलपुर टेरर फैक्टरी से था।अजहर पर पाकिस्तान ने दुनिया को किया गुमराह

ठिकानों का पता

अजहर के ठिकानों का पता ऐसे वक्त में चला है जब पाकिस्तान फाइनैंशल ऐक्शन टास्क फोर्स (FATF) के सामने यह कह रहा है कि मसूद अजहर लापता हो गया है। हाल में पाकिस्तान ने आतंकी हाफिज सईद को तो टेरर फंडिंग के लिए करीब 5 साल की सजा सुनाई है लेकिन अजहर और मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड जकिउर रहमान लखवी पर कार्रवाई न करने के लिए उसकी खिंचाई भी होती रही है।

देश में कई आतंकी हमलों का मास्टरमाइंड है अजहर

मसूद अजहर जैश-ए-मोहम्‍मद का सरगना है और भारत में हुई कई आतंकी घटनाओं का मास्टरमांइड है। पिछले साल पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले की जिम्मेदारी भी जैश ने ही ली थी। पाकिस्तान में मौजूद जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के बारे में रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि गुपचुप तरीके से उसे जेल से निकाल दिया गया है।
टॉप इंटेलिजेंस सूत्रों के मुताबिक जैश सरगना का स्वास्थ्य काफी खराब है।

निर्भया कांड के दोषियों को जेल प्रशासन का फरमान, मिल लो जिससे मिलना हो!

खराब सेहत के कारण मसूद इन दिनों संगठन के काम से दूर है और उसका भाई ही संगठन का काम देख रहा है। मसूद का भाई अब्दुल रऊफ असगर ही इन दिनों उसकी ‘आतंक की फैक्ट्री’ चला रहा है।

<blockquote class=”twitter-tweet”><p lang=”hi” dir=”ltr”>शर्मनाक: महिला क्लर्कों के उतरवाए कपड़े, किया टू फिंगर टेस्ट<a href=”https://t.co/rZ6o4ebpFT”>https://t.co/rZ6o4ebpFT</a></p>— samacharwaala (@samacharwaala1) <a href=”https://twitter.com/samacharwaala1/status/1231168835883061249?ref_src=twsrc%5Etfw”>February 22, 2020</a></blockquote> <script async src=”https://platform.twitter.com/widgets.js” charset=”utf-8″></script>