Categories
देश

दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन व विरोध में जमकर पत्थारबाजी

नई दिल्‍ली। दिल्ली के मौजपुर में माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है। पत्थरबाजी की खबरें आ रही हैं।
नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) समर्थकों और विरोधियों के बीच पत्थरबाजी हो रही है।
पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े हैं।
मौके पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात है।

कौशल किशोर यूथ ब्रिगेड की बैठक सम्पन्न, सांसद कौशल ने दिया सफलता का गुरुमंत्र

जारी है प्रदर्शन

रविवार को बवाल के बाद सोमवार को भी प्रदर्शन जारी है।
मौजपुर में मंदिर के पास नागरिकता संशोधन कानून के समर्थक और स्थानीय लोग सड़क पर हैं। लोगों ने सड़क जाम कर दी है
माइक से जयश्रीराम के नारे लगाए जा रहे हैं।
साथ ही ऐलान किया गया है कि मंगलवार से यहां रोज हनुमान चालीसा का पाठ होगा।

धरने में महिलाएं

तनाव को देखते हुए मौजपुर में भारी फोर्स की तैनाती की गई है।
प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना है संविधान ने
हमें भी धरना देने का अधिकार दिया है।
जब शाहीनबाग, जाफराबाद, चांद बाग से सड़क खाली नहीं होगी,
मौजपुर से भी सड़क खाली नहीं होगी।
इस धरने में महिलाएं भी शामिल हुई हैं।
लाउडस्पीकर से गाने बज रहे हैं।

पुलिस ने दर्ज की एफआईआर

इस बीच सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान जाफराबाद, मौजपुर और दयालपुर में हुई हिंसा मामले में पुलिस ने 4 एफआईआर दर्ज की है।

रविवार को अलग-अलग इलाकों में हुई हिंसक झड़प में 10 पुलिसकर्मियों समेत एक सिविलियन घायल हुआ था।
हिंसा के बाद पूरे इलाके में पुलिस के जवान तैनात कर दिए गए हैं।

रविवार को नार्थ ईस्ट दिल्ली के मौजपुर, करावल नगर में सीएए के समर्थक और विरोधी आपस मे भिड़ गए थे।
 जिसके बाद मौजपुर, करावल नगर समेत कुछ और इलाकों में बवाल हुआ और पत्थरबाजी के साथ आगजनी हुई।
जाफराबाद में अभी भी मेट्रो स्टेशन के नीचे महिलाएं धरने पर बैठी हुई हैं।

सीएए के खिलाफ धरने के कारण एक तरफ का ट्रैफिक रुका हुआ है।
महिलाओं का कहना है कि कि जब तक कानून वापस नहीं होगा वो नहीं हटेंगी।
इस बीच मौजपुर की सड़क को सीएए समर्थकों ने बंद कर दिया है
और सड़क पर बैठकर प्रदर्शन चल रहा है।