Categories
सेहत

सेंधा नमक में छिपा है से‍हत का राज, जानें क्‍या है इसमें खास

सेंधा नमक को लेकर लोगों की आम धारणा है कि इसका इस्तेमाल सिर्फ व्रत में किया जाता है।
यह बात काफी हद तक सही भी है,
लेकिन क्या आपने कभी गौर किया है कि सेंधा नमक के इस्तेमाल को इतना खास क्यों माना गया है? सेंधा नमक में ऐसे कौन-से गुण हैं,
जो इसे अन्य प्रकार के नमक से स्पेशल बनाते हैं? ऐसे तमाम सवालों के जवाब और सेंधा नमक के फायदे के बारे में आप इस लेख में विस्तार से जान पाएंगे। सेंधा नमक सिर्फ हमें स्वस्थ रखने में मदद करता है।

सेहत के हिसाब से ज्यादा नमक खाना कई बीमारियों की वजह बन सकता है। लेकिन आपको जानकर बहुत हैरानी होगी कि आयुर्वेद में सेंधा नमक को सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है।
सेंधा नमक में पाए जाने वाले खनिज हमें कई तरह की बीमारियों से बचाने का काम करते हैं।
यह नमक पाचक रसों का निर्माण करता है, इसलिए यह पाचन को ठीक करने में सहायक है।

सेंधा नमक उच्‍च रक्‍तचाप करे नियंत्रित

सेंधा नमक हाई ब्लडप्रेशर को कंट्रोल करने में काफी लाभदायक है
इसी के साथ यह कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करता है जिससे हार्ट अटैक का खतरा कम होता है।

तनाव कम करने में सहायक

यह स्ट्रेस कम को कम करता है।
इसी के साथ यह सेरोटोनिन और मेलाटोनिन हार्मोन्स का बैलेंस बनाएं रखता है जो तनाव से लड़ने में मदद करता है।

शरीर दर्द कम करने में सहायक

यह नमक मांसपेशियों के दर्द और ऐंठन के साथ ही ज्वाइंट्स पेन को भी कम करता है।

साइनस में दे राहत

साइनस का दर्द पूरे शरीर को तकलीफ देता है और इससे छुटकारा पाने के लिए सेंधा खाना फायदेमंद रहता है।
अगर आपको स्टोन की प्राब्लम है तो सेंधा और निंबू को पानी में मिलाकर पीने से कुछ ही दिनों में पथरी गलने लगती है।

अस्थमा को करे दूर

अस्थमा, डायबिटीज और आर्थराइटिस के मरीजों के लिए इसका का सेवन काफी फायदेमंद होता है।
नींद न आने की समस्या में भी काफी फायदेमंद होता है।

यह भी पढें:- तो ये थी साजिश: असदुद्दीन ओवैसी पर हमले में गोलमाल, झूठ से उठी पर्दा!

गले की खराश में आरामदायक

मौसम में बदलाव होने या ठंडा-गर्म खाने से सर्दी-जुकाम की समस्या हो सकती है।
इसकी वजह से गले में खराश हो सकती है।

वहीं, इसमें में डिकंजेस्टेंट गुण हो सकते हैं,
जो गले में फंसे बैक्टीरिया युक्त बलगम को पतला कर उसे शरीर से बाहर निकालने में मदद कर सकते हैं।
साथ ही यह खांसी की समस्या से भी राहत दिला सकता है।
गले में खराश की समस्या दूर करने के लिए नमक युक्त गुनगुने पानी से गरारे किए जा सकते हैं।
इससे कुछ ही दिनों में पीड़ित व्यक्ति को राहत मिल सकती है।