Categories
खबरें

किसान आन्दोलन: दिल्ली में चक्का जाम को लेकर पुलिस ने बनाई ये रणनिति

नई दिल्‍ली। कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले दो महीने से भी ज्यादा समय से किसान आंदोलन जारी है।
गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड के बाद अब किसान
आन्दोलन को और धार देने के लिए किसान संगठन शनिवार को तीन घंटे के लिए देशव्यापी चक्का जाम करेंगे।
कांग्रेस सहित लगभग सभी विपक्षी पार्टियों ने इसे
अपना समर्थन दिया है।

किसान आंदोलन के मद्देनजर दिल्ली में
50 हजार सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है।
वहीं ड्रोन से दिल्‍ली की सीमाओं पर नजर रखी जा रही है।
सोशल मीडिया पर पुलिस की एक टीम नजर बनाए हुए है
ताकि अफवाहों को फैलने से रोका जा सके।
सुरक्षाबलों की एक टुकड़ी को रिजर्व में रखा गया है।
दिल्ली मेट्रो ने एहतियातन 10 स्टेशनों पर आवाजाही
को बंद कर दिया है।

रूस यूक्रेन पर इस बम को गिराने की है फिराक में, तो चारो तरफ होगा तबाही का मंजर…   

किसानों का कहना है कि दिल्ली,
उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में चक्का जाम नहीं होगा।
किसान आंदोलन शांतिपूर्ण तरीके से देश के अन्य हिस्सों में तीन
घंटे के लिए राष्ट्रीय एवं राज्य राजमार्गों को बाधित करेंगे।

जानिए रूसी राष्‍ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का वो अनजाना राज जिससे दुनिया है बेखबर  

वहीं दूसरी ओर इस किसााने आन्‍दोलन को कांग्रेस के
पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी नेअनपा पूर्ण समर्थन देते हुए
ट्वीट कर कहा है कि, ‘अन्नदाता का शांतिपूर्ण सत्याग्रह
देशहित में है- ये तीन कानून सिर्फ किसान-मजदूर के लिए
ही नहीं, जनता व देश के लिए भी घातक हैं।

वहीं दूसरी ओर दिल्ली पुलिस के संयुक्त पुलिस आयुक्त
आलोक कुमार ने कहा, पुलिस कर्मियों को रणनीतिक
स्थानों जैसे कि रोड नंबर 56, एनएच-24, विकास मार्ग,
जीटी रोड, जीराबाद रोड पर देशव्यापी ‘चक्का-जाम’ के आह्वान
के मद्देनजर तैनात किया गया है।
बैरिकेडिंग इस तरह से की गई है कि दिल्ली में कोई घुसपैठ न हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published.