टीबी रोग को खत्म करने के लिए प्रभावित बच्चों को गोद लेने की श्रंखला में सीएचसी काकोरी में हुआ कार्यक्रम

224
newyearwish

कार्यक्रम का उद्घाटन करने आए सांसद कौशल किशोर ने टीवी से प्रभावित पांच बच्चों को लिया गोद

रिपोर्ट -के. के. रघुवंशी संपादक समाचार वाला डॉट कॉम न्यूज़ पोर्टल

काकोरी/लखनऊ। मा.प्रधानमंत्री भारत सरकार के वर्ष 2025 तक टीबी के समूल नाश के सपने को पूर्ण करने हेतु माहामहिम राज्यपाल उत्तर प्रदेश के आवाहन पर टीबी रोग से ग्रसित 18 वर्ष आयु तक के बच्चों को गोद लिए जाने की श्रंखला में शुक्रवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, काकोरी में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसका उद्घाटन सांसद मोहनलागंज कौशल किशोर द्वारा किया गया। जिसमें अस्पताल के अधीक्षक डॉक्टर उमा शंकर लाल सहित सभी डॉक्टर उपस्थित रहे। अपने संमबोधन में सांसद ने कहा कि टीबी की बीमारी के फैलाव व उसके बचाव के बारे में विस्तार से बताते हुए सरकार द्वारा दी जा रही सुविधाओं की जानकारी दी तथा इस बीमारी से स्वयं को तथा समाज को बचाने की आम जनमानस से जागरूक रहने की अपील की।इस अवसर पर उन्होंने काकोरी स्थित टीबी यूनिट के कर्मचारियों सुजीत कुमार,विजय प्रकाश, सुधीर कुमार अवस्थी एवं कार्यक्रम के सफल आयोजन हेतु वरिष्ठ टीबी प्रयोगशाला पर्यवेक्षक विजय कुमार मौर्य तथा बी.सी.पी.एम. प्रद्युमन कुमार मौर्य की तारीफ करते हुए टीबी की रोकथाम में अच्छा योगदान करने वाली आशा बहुऔं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किये जाने के भी निर्देश दिये। कार्यक्रम में कुल 13 टीबी से ग्रसित बच्चों को गोद लिया गया। इनमें सांसद महोदय द्वारा पांच,खंड विकास अधिकारी संस्कृता मिश्रा द्वारा दो, अधीक्षक डॉ॰ उमाशंकर लाल द्वारा दो,सहायक शोध अधिकारी पी.सी पांडे द्वारा दो,स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी शशि भूषण भारती द्वारा एक, ब्लाक कम्युनिटी प्रोसेस मैनेजर प्रद्युमन कुमार मौर्य द्वारा एक बच्चे को गोद लिया गया। कार्यक्रम में सभी बच्चों को फल एवं पोषाहार वितरित किया गया।