बेकसूरों को जेल भेजने पर ग्रामीणों ने सांसद कौशल किशोर से लगाई न्याय की गुहार

250
newyearwish

लखनऊ। सरकार कानून व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त करने के लिए रोज नए फरमान जारी कर रही है। मगर सुबे की पुलिस है कि सुधरने का नाम नहीं ले रही है ताजी घटना लखनऊ के माल थाना क्षेत्र के गांव भानपुर की है जहां पर ग्रामीणों का आरोप है कि बलात्कार के मुकदमे में सुलह न करने पर बलात्कार आरोपी ने बलात्कार पीड़िता के पति व अन्य पर जानलेवा हमले का आरोप लगाया है।
ग्रामीणों के मुताबिक गुड्डू पुत्र विश्राम एक वर्ष पहले गांव की ही एक महिला से बलात्कार किया था जिसका मुकदमा न्यायालय में विचाराधीन है आरोपी गुड्डू लगातार पीड़िता एवं उसके परिजनों पर सुलाह करने का दबाव बना रहा था जब पीड़िता व उसके परिवार ने सुलह नहीं की तो कई बार आरोपी ने पीड़िता एवं उसके परिवार वालों से फर्जी केस में फंसाने की बात कही, इसी क्रम में 2 दिन पूर्व गुड्डू के पिता विश्राम ने माल थाने में तहरीर देकर पीड़िता के पति पर जानलेवा हमले का आरोप लगाते हुए तहरीर दी
ग्रामीणों के अनुसार पुलिस ने बिना जांच पड़ताल के निर्दोष लोगों को घर से सोते समय जगाकर जेल भेज दिया।
शानिवार को गांव के सैकड़ों लोगों ने स्थानीय सांसद कौशल किशोर के आवास पर अपनी फरियाद सुनाई।
उन्होंने बताया कि विश्राम के दो पुत्र डकैती के आरोप में जेल में बंद हैं तीसरा पुत्र गुड्डू जो कि बलात्कार का आरोपी है वह भी गांव से फरार चल रहा है जिसकी पुलिस को तलाश है। परंतु पुलिस की मिलीभगत से आरोपियों को न पकड़कर निर्दोष ग्रामीणों को पुलिस पकड़ कर जेल भेजने का काम कर रही है।
इस पर स्थानीय सांसद कौशल किशोर ने कहा कि ग्रामीणों के  कथनानुसार इस मामले में पुलिस निर्दोष लोगों को जेल भेजने का काम कर रही है जिस पर मैंने एसएसपी से बात की है और इसकी उच्चस्तरीय जांच कराकर दोषियों को सजा दी जाएगी।