हरौनी क्षेत्र में निजी विद्यालय संचालक कर रहे अभिभावकों का शोषण

256
newyearwish

 

राजधानी के बन्थरा,हरौनी क्षेत्र में निजी मान्यता प्राप्त विद्यालयों में खुलेआम सरकार व शिक्षा विभाग की मंशाओं पर फेरा जा रहा है पानी

परचून की दुकान बनते जा रहे हैं निजी विद्यालय

क्षेत्र में कई मान्यता प्राप्त विद्यालयों में मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी के आदेशों की खुलेआम उड़ाई जा रही धज्जियां।
नया सत्र शुरू होते ही शुरू होता है अभिभावकों को लूटने का खेल।
विद्यालय द्वारा हर वर्ष फीस की बढ़ोत्तरी के साथ वसूली जाती है एनुअल फीस। साथ ही विद्यालय द्वारा किताबो के लिए सिर्फ कमीशन सेट हुई दुकान का नाम बता दिया जाता है दुकानदार विद्यालय के संचालकों की सेटिंग से अपने मन मुताबिक किताबों की रकम अभिभावक और छात्रों से वसूलते है।
विद्यालय संचालकों की सेटिंग किए हुए दुकानों पर ही बुकें उपलब्ध होती हैं जिससे दुकानदार अपने मन मुताबिक किताबों पर छपे हुए मूल्य पर किताबें बेंचताहै।

हर मां बाप की इच्छा होती है अपने बच्चे को अच्छी परवरिश और अच्छी शिक्षा देने की लेकिन गरीब अभिभावक शिक्षा माफियाओं के कारण अपने बच्चों को उत्तम शिक्षा दिलाने में असफल हो जाते हैं। सरकार के आदेशानुसार खुलेआम सरकारी नियमों की धज्जियां उडाई जा रही हैं । विद्यालय के संचालकों द्वारा छात्रों से कंप्यूटर, ट्रंक, बिल्डिंग , फंक्शन फीस, डेवलपमेंट आदि,फीस के नाम से मोटी रकम वसूली जाती है।
आज सरकारें जहां चुनावों के समय जनता से सबको शिक्षा का अधिकार की बात कह रहीं हैं, वहीं विद्दालयों की मनमानी खुलेआम सरकारी आदेशों को ठेंगा दिखा रहें हैं।
शिक्षा विभाग को तत्काल विषय को संज्ञान में लेते हुए क्षेत्र में ऐसे विद्यालयों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कठोर कार्यवाही करनी चाहिए जिससे गलत तरीके से कार्य करने वालों को सबक मिल सके। जिससे गरीब भी अपने बच्चों को उत्तम शिक्षा दिला सके।