नारायण सेवा संस्थान के द्वारा सम्मान समारोह और टैलेंट शो का आयोजन

361
newyearwish

IMG-20181230-WA0022लखनऊ: नारायण सेवा संस्थान, उदयपुर द्वारा आत्मीय स्नेह मिलन एवं भामाशाह सम्मान समारोह का आयोजन आज रविवार को कैपिटल सेन्टर, विधानसभा मार्ग के पास, जी.पी.ओ के सामने हजरतगंज, लखनऊ (उ.प्र) में किया गया। आज कार्यक्रम में राजधानी लखनऊ के प्रमुख दानादाता श्री नवीन चंद्र तिवारी ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम की शुरूआत की। इस मौके पर संस्थान ने आज 400 भामाशाहओं को शाल देकर समानित किया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि समाजसेवी और नगर सांस्कृतिक समिति पंत नगर श्री भुवन चंद्र जोशी थे।

इस मौके पर श्री तिवारी ने बताया कि संस्थान में प्रतिदिन लगभग 100 दिव्यांगजन के निःशुल्क ऑपरेशन किए जा रहे हैं। ऑपरेशन के समय से लेकर और बाद में भर्ती रहने तक सभी प्रकार की दवाईयाँ तथा साथ में आए परिजनां को निःशुल्क आवास व भोजन व्यवस्था उपलब्ध कराई जाती है। संस्थान में अब तक लगभग 3 लाख 80 हजार से अधिक दिव्यांगजन के ऑपरेशन किये जा चुके हैं। संस्थान आर्थिक रूप से निर्धन, असहाय एवं दिव्यांग युवक-युवतियों के निःशुल्क सामूहिक विवाह का भी आयोजन कर उनका सामाजिक पुनर्वास किया जा रहा है। अब तक 1400 से अधिक जोड़ों का विवाह कराया जा चुका है। इसके साथ ही उदयपुर शहर में निर्धन लोगों को नारायण रोटी रथ द्वारा रोजाना भोजन वितरण के साथ ही संस्थान में 4 हजार लोगों को प्रतिदिन भोजन कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश से भी कई दिव्यांग उदयपुर जा रहे हैं और उन्होंने सभी लोगों से दिव्यांगों की मदद करने के अपने जान पहचान में लोगों को संस्थान के विषय में बताने को कहा। ताकि दिव्यांग वहां पहुंच कर मुफ्त में इलाज करा सकें।
संस्थान के जनसंपर्क अधिकारी राजधानी लखनऊ की जनता से इस सामाजिक कार्य में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेने की अपील की। उन्होंने कहा कि संस्थान की जानकारी वंचितजनों तक पहुँचाएँ, जिससे वंचितजन संस्थान में सामाजिक कल्याणकारी कार्यां तथा सेवाओं से लाभान्वित हो सकें। इस मौके पर मुख्य अतिथि श्री भुवन चंद्र जोशी ने दानवीर भामाशाओं से भी अपील की है कि संस्थान के सेवा कार्य-कलापों को गति प्रदान करने के लिए दिल खोलकर तन-मन-धन से सहयोग कर, इसके सफल संचालन में सहयोग करें। आज के कार्यक्रम में आगरा के निवासी योगी और मध्य प्रदेश के जगदीश दिव्यांग होने के बावजूद अपने हुनर का प्रदर्शन किया।
योगेश….
आगरा, उत्तर प्रदेश का मूल निवासी दिव्यांग योगेश, एक ग़रीब परिवार से है। नारायण सेवा संस्थान में संस्थान में रहते हुए ही संस्थान द्वारा संचालित मोबाइल रिपेयरिंग में प्रशिक्षण प्राप्त किया। इसी बीच, संस्थान द्वारा ‘दिव्य-2018’ फैशन एण्ड टैलेट शो आयोजित किया गया। जिसमें उसने भाग लिया तथा अपने शारीरिक कौशल के साथ अपने गठीले शरीर का भी प्रदर्शन किया।
जगदीश….
मध्यप्रदेश के सादर शहर में जन्मा जगदीश जन्म से ही दिव्यांग है और व्हील चेयर के सहारे चलते हैं। नारायण सेवा संस्थान आने के बाद जगदीश ने कम्प्यूटर कोर्स किया। जब जगदीश को पता चला की संस्थान में टेलेंट शो के जरीए दिव्यांगों के हुनर को भी निखारा जाता है तो वह भी इस शो के साथ जुड़ गया तथा सीखना शुरु कर दिया। संस्थान द्वारा ‘दिव्य-2018’ फैशन एण्ड टैलेट शो का आयोजन किया गया, जहाँ दिव्यांग जगदीश ने अपने शारीरिक हुनर एवं कौशल का जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए सभी को दांतों तले उंगली दबाने को मजबूर कर दिया।
कार्यक्रम का संयोजन श्री नवीन चन्द्र तिवारी शाखा संयोजक लखनऊ द्वारा किया गया इस समारोह में प्रमोद तिवारी, हेमा सनवाल(सभासद), उमेश सनवाल(भाजपा नेता), राकेश मिश्रा, कैलाश चंद्र जोशी, वरिष्ठ साहित्यकार घनानंद पांडे “मेघ” मंजू जोशी, माया, शंकर उप्रेती, गोकुल उप्रेती समेत लखनऊ नगर के कई बुद्धिजीवी और वरिष्ठ जन उपस्थित थे।