पीड़ित को न्याय दिलाने के बजाय हीला हवाली कर रही बंथरा पुलिस

223
newyearwish

श्रीनिवास सिंह सिंह मोनू

लखनऊ। पुलिस का रवैया किसी से छुपा नहीं रहता है अक्सर छोटी मोटी घटनाओं में पीड़ित पुलिस के पास जाने से कतराया करते हैं । यदि कोई घटना हो भी गई तो पुलिस उन छोटी मोटी घटनाओं को नजरअंदाज कर दिया करती है । यदि पुलिस उन छोटी मोटी घटनाओं को संज्ञान में लेकर उचित कार्यवाही करें तो बहुत हद तक बड़ी वारदातों पर लगाम लगाया जा सकता है, फिर भी पुलिस का रवैया है कि बदलने का नाम नहीं लेता है।

मामला बंथरा थाने के हलका नंबर 3 के गांव सादुल्लानगर का है यहां के निवासी अजीत कुमार पुत्र हरिश्चंद्र को गांव के ही रहने वाले तालिब पुत्र हलीम व अमन पुत्र मन्नन ने बीते माह की 29 तारीख को घर पर चढ़ाई करते हुए मारा पीटा था जिसकी लिखित शिकायत पीड़ित ने बंथरा थाने में की थी किन्तु कार्यवाही करने के बजाय पुलिस की ओर से आश्वासन ही दिया जा रहा है।

इस मामले में जब थाना प्रभारी विजय सेन सिंह से बात की गई तो उनका कहना था कि मामला मेरे संज्ञान में नहीं है, संज्ञान में आने पर कार्रवाई की जाएगी। जबकि पीड़ित 3 दिन से थाने के चक्कर काट रहा है लेकिन उसकी प्राथमिकी नहीं दर्ज हो रही है।