सीएम योगी ने अयोध्या में रामलला के दर्शन किये, की बड़ी घोषणाएं

258
newyearwish

अयोध्या। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री सीएम योगी आदित्यनाथ का अयोध्या के दौरे पर हैं। बुधवार को अपने दौरे के दूसरे दिन योगी आदित्यनाथ ने रामजन्म भूमि जाकर रामलला के दर्शन किए। इससे पहले वे हनुमान गढ़ी पहुंचे थे और वहां बजरंग बली के दर्शन किए। आगे उनका दिगंबर अखाड़ा और सरयू घाट जाने का कार्यक्रम है। इसके बाद दिवाली मनाने के लिए गोरखपुर के लिए रवाना हो जाएंगे।

सीएम योगी गोरखपुर में वनटांगिया समुदाय के लोगों के बीच दिवाली मनाएंगे। योगी पिछले कई सालों से उनके गांव आकर दिवाली मनाते हैं और इस बार भी समुदाय के लोग उनके आने को लेकर बेहद उत्साहित हैं। मुख्यमंत्री ने पिछले साल गोरखपुर के पांच वनटांगिया गांव, महाराजगंज और गोंडा के कई वनटांगिया गांवों को राजस्व ग्राम घोषित किया था।
गोरखपुर में मौजूद वनटांगिया गांव तिकोनियां नंबर तीन की रहने वाली 23 साल की शगुनी ने बताया कि हमने महाराज जी के स्वागत के लिये सरस्वती वंदना और सफाई को आधार बनाते हुये गीत तैयार किए हैं। हमारे लिए दिवाली का मतलब महाराज जी (योगी आदित्यनाथ) होते हैं। महाराज जी ने जब 20 साल पहले आना शुरू किया तभी से हम दीपावली का त्योहार मना रहे हैं।

इससे पहले सीएम योगी ने मंगलवार को अयोध्या में भव्य तरीके से दीपावली का त्यौहार बनाया। वो यहां अयोध्या के राम की पैड़ी पर दीपोत्सव कार्यक्रम में शामिल हुए। अयोध्या हेलीपैड पर सीएम योगी का भगवान श्री राम सीता स्वरूप का स्वागत किया गया और राम कथा पार्क में राज्याभिषेक किया गया।

मुख्य अतिथि के रूप में कोरिया गणराज्य के प्रथम महिला किम जोंग सुक, प्रदेश के राज्यपाल राम नईक, बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन, विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह समेत कैबिनेट के कई मंत्री मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को फैजाबाद का नाम अयोध्या करने की घोषणा की। ये ऐलान करते हुए सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या हमारी ‘आन, बान और शान’ का प्रतीक है। इसके साथ ही राम मंदिर निर्माण की चर्चाओं के बीच उन्होंने कहा कि कोई अयोध्या के साथ अन्याय नहीं कर सकता है।

सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या की पहचान भगवान राम से है। उन्होंने दिवाली के अवसर पर आयोजित ‘दीपोत्सव’ में ये बातें कहीं। उन्होंने अयोध्या में भगवान राम के नाम पर एक नया हवाई अड्डा और भगवान राम के पिता राजा दशरथ के नाम पर जिले में एक मेडिकल कॉलेज की स्थापना की भी घोषणा की। इस अवसर पर भीड़ में शामिल कुछ लोगों को ‘मंदिर का निर्माण कराओ’ के नारे लगाते सुना गया।

कथा पार्क में आयोजित कार्यक्रम में दक्षिण कोरिया कोरिया की प्रथम महिला किम जुंग-सुक भी शामिल हुईं। इस अवसर पर ‘राम की पैड़ी’ के पुन: विकास और सौंदर्यकरण और सरयु नदी में मलजल प्रवाहित करने पर रोक लगाने समेत कई परियोजनाओं का शुभारंभ किया गया।