मानक के विपरीत शौचालयों का हो रहा निर्माण, प्रधान से लेकर उच्चा‍धिकारी तक बंदरबांट में शामिल

567
newyearwish

लखनऊ। देश स्वच्छ भारत मिशन की तैयारियों में जुटा हुआ है।
वही संबंधित अधिकारियों व ग्राम प्रधान की मिलीभगत से घटिया व अधूरे निर्माण कर हो रहा राशि का बंदरबाट,
मामला ककोरी ब्लाक के अंतर्गत ग्राम सभा खुशहलगंज का है।
यहाँ इसरत जहाँ पत्नी वसीर को ग्राम प्रधान द्वारा शौचालयों दिया गया है।

अधूरा निमार्ण

जो कि निर्माण कार्य अभी पूरा भी नही हुआ है। शौचालय में ही शीट, दरवाजा भी नही लगाया गया है।
और न तो पूरा प्लास्टर हुआ है।
शौचालय की एक दीवार प्लास्टर कराकर पात्र का नाम भी लिखा दिया गया है।
इससे साफ जाहिर होता है कि शौचालय का पूरा पैसा पास करा कर बंदरबाट किया गया है।

आखिर कब तक प्रधान व ग्राम विकास अधिकारी के द्वारा गरीबों को
मिलने वाली सुविधाओ से खिलवाड़ करते रहेंगे।
उन्ही लोगो को सरकारी सुविधाओं का लाभ मिल रहा है।
जो प्रधान के खास हैं। या मोटी रकम देने में सच्छ्म है।
ग्रामीणों से बात की तो वही पर कुछ लोगों का कहना है कि ग्राम प्रधान
द्वारा अावासों की जो कार्य योजना बनाई उसमें ज्यादातर प्रधान के चाहते लोग हैं उन्हीं लोगों के नाम हैं।

इस प्रकार से काम करके सरकार के मंसूबो पे पानी फेरने का काम किया जा रहा है।
लेकिन आला अधिकारियों द्वारा सिर्फ कागज पे ही खाना पूर्ति करके काम को पूरा किया जाता है।