वरिष्ठ पत्रकार अभिषेक शुक्ल को शोकसभा में दी गई भावभीनी श्रद्धांजलि

99

लखनऊ। पत्रकार समाज का सबसे सजग और जागरूक प्रहरी होता है। वह विसंगतियों और कुरीतियों के साथ असामाजिक तत्वों से हमेशा जूझता रहता है। किसी पत्रकार का असमय जाना समाज और मीडिया जगत की बहुत बड़ी क्षति है। हमारा समाज डेस्क के साथियों को हमेशा कमतर आंकता है। डेस्क के साथी मीडिया जगत में नींव की ईंट होते हैं। नींव की शिलाओं को स्मरण किए बगैर भव्य भवन की कल्पना करना असंभव है। यह बातें मनकामेश्वर मंदिर की महंत देव्या गिरी ने शोकसभा में कहीं। वो यूपी जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन (उपजा) की जिला इकाई लखनऊ जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन (लखनऊ उपजा) की ओर से आयोजित दिवंगत एनबीटी के वरिष्ठ पत्रकार श्री अभिषेक शुक्ल की श्रद्धांजलि सभा में बोल रहीं थीं।

WhatsApp Image 2018-10-02 at 5.34.01 PM

साध्वी ने कहा कि हम सबको आत्मा की सद्गति के लिए ईश्वर से प्रार्थना करनी चाहिए। उनके घर जाकर परिवार को ढांढ़स बंधाने के लिए पत्रकारों और गणमान्य व्यक्तियों के प्रतिनिधिमंडल को जाकर अपनी संवेदना व्यक्त करनी चाहिए। पत्रकार हमेशा संघर्षपूर्ण स्थितियों में जूझकर समाज को सही दिशा में ले जाने का प्रयास करता है।

उपजा के मार्गदर्शक मंडल के सदस्य और वरिष्ठ पत्रकार श्री अजय कुमार ने कहा कि जब कोई जाता है तो दुख होता है, जब कोई असमय विदा लेता है तो अन्तस तक पीड़ा होती है। डेस्क के साथी पत्रकारों के काम को सुंदर और पठनीय बनाकर प्रस्तुत करते हैं। यह विडंबना ही है कि डेस्क के साथी मीडिया जगत के अघोषित योद्धा बनकर रह जाते हैं। सब कुछ करने वाले साथी गुमनामी की जिंदगी गुजार देते हैं।

WhatsApp Image 2018-10-02 at 5.34.11 PM

मार्गदर्शक मंडल के सदस्य और वरिष्ठ पत्रकार श्री प्रमोद गोस्वामी ने श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि उपजा की यह अच्छी पहल है कि नेपथ्य में रहने वालों को याद किया जा रहा है। अभिषेक समाचार के अच्छे शिल्पकार थे। कच्ची सामग्री को सुंदर और आकर्षक बनाने का काम डेस्क के साथी करते हैं।

लखनऊ उपजा के अध्यक्ष श्री भारत सिंह ने कहा कि  डेस्क के साथियों की अनदेखी करना ठीक नहीं है। समाज, पाठक और सरकार सिर्फ फील्ड रिपोर्टरों को याद करता है। समाचार को रोचक और प्रभावपूर्ण बनाकर प्रस्तुत करने में डेस्क के साथियों का योगदान अहम है। दिवंगत पत्रकार के परिवार के साथ हम सबका सहयोग बना रहेगा, ऐसी सबसे अपेक्षा है।

शोकसभा में अभिषेक शुक्ल को श्रद्धांजलि देने वालों में उपजा के प्रदेश मंत्री श्री रत्नाकर मौर्य, जिला महामंत्री श्री आशीष मौर्य, उपाध्यक्ष एसवी सिंह, सुशील सहाय, मंत्री श्री पद्माकर पांडेय, विनय तिवारी कार्यालय मंत्री अतुल मोहन सिंह, कार्यकारिणी सदस्य श्री संतोष सिंह, श्री अश्वनी जायसवाल, वीरेंद्र त्रिपाठी, अजय कुमार वर्मा, अजय शर्मा, धनंजय सिंह, एनबीटी के वरिष्ठ पत्रकार रोहित मिश्र, सुशील दोषी और प्रवीण राय, जागरण के वरिष्ठ पत्रकार श्री सुरेश कुमार सिंह, ईटीवी भारत के अनुराग मिश्र, वरिष्ठ पत्रकार शफ़ीक़ अहमद, विनीत सहित अन्य साथियों ने भी अपने संस्मरण सुनाए।