तीन तलाक पर सपा नेता के बिगडे़ बोल, महिलाओं को बताया…

94

लखनऊ। एक साथ तीन तलाक (तलाक-ए-बिद्दत) अब अपराध होगा
और इसके लिए तीन साल की सजा होगी।
केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को एक साथ तीन तलाक को दंडनीय
अपराध बनाने के लिए अध्यादेश को मंजूरी दे दी।
देर रात राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अध्यादेश पर हस्ताक्षर कर दिए।

यह भी पढें:- एक और सर्जिकल स्‍ट्राइक और बस… सेना प्रमुख ने किया इशारा

इसके साथ ही यह कानून लागू हो गया।
इस कानून के लागू होने के साथ ही अब देश भर के राजनैतिक दलों के
नेताओं की प्रतिक्रिया आनी शुरू हो गयी हैं।
इसी क्रम में तीन तलाक पर कानून बनने पर सपा के कद्दावर नेता
अबू आजमी ने मुस्लिम महिलाओं पर विवादित बयान दे दिया है।

अबु आज़मी ने दिया विवादित बयान

देश भर में ट्रिपल तलाक़ अध्यादेश को राष्ट्रपति की मंजूरी मिलने के बाद
समाजवादी पार्टी के नेता अबु आज़मी ने महिलाओं को लेकर एक आपत्तिजनक बयान दिया है।
मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा जिन महिलाओं ने इस मसले पर आंदोलन किए हैं,
वे बीजेपी से मिली हुई हैं।

यह भी पढें:- सुप्रीमकोर्ट में आधार की अनिवार्यता पर आ सकता है आज बड़ा…

अबू आज़मी ने ही आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल करते हुए कहा कि
ट्रिपल तलाक का समर्थन करने वाली महिलाएं बीजेपी के तलवे चाटने वाली है।
ये बिकाऊ महिलाएं है और इनमें से कई तो नकली मुसलमान हैं।

बिल को दी जायेगी चुनौती

सपा नेता ने कहा कि देश की ज्यादातर मुस्लिम महिलाएं इस कानून के खिलाफ हैं।
मुसलमान आदमियों को जेल भेजने के लिए यह कानून बनाया गया है।
इस अध्यादेश लागू होने पर जमाएत उलेमा ए हिन्द के जनरल सेक्रेटरी गुलज़ार आज़मी ने कहा कि जमाएत उलेमा हिन्द ट्रिपल तलाक़ अध्यादेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देगा।

यह भी पढें:- पूर्ववर्ती सरकार के हितैषी अफसर सरकार को बदनाम करने का कर…

गुलज़ार ने कहा कि मुसलमान इस कानून को नहीं मानता और ना ही मानेगा।
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी मुसलमान ट्रिपल तलाक़ देता रहा है और आगे भी देता रहेगा, हम शरिया में दखल नहीं चाहते।