आखिर किसकी सरपरस्ती में चल रहा हरौनी अवैध शराब विक्रेताओं का कारोबार

236
newyearwish

लखनऊ। आज पूरे देश भर में शराबबंदी को लेकर जगह-जगह प्रदर्शन व आंदोलन हो रहे हैं।
इनको देखते हुए सरकार जहाँ हो सकता है
शराब की बंदी भी कर रही है, जैसे अभी हाल फिलहाल में मथुरा में शराब की पूर्ण रुप से बंदी लागू कर दी गई है।
इसके साथ ही पूरे देश में शराब की दुकानों पर शराब बिक्री का समय भी निश्चित कर दिया गया है।
जो कि सुबह 12:00 बजे से लेकर रात 10:00 बजे तक निर्धारित है।

परंतु कुछ जगहों पर शराब माफिया इतने प्रभावशाली है की सरकार का बनाया हुआ
कानून भी इनके लिए कोई मायने नहीं रखता।
जिससे साफ प्रतीत होता है कि नजदीकी पुलिस के बिना मिलीभगत के यह कैसे संभव है।

आफ टाइम में बिकती है शराब

मामला राजधानी के बंथरा थाना क्षेत्र में स्थित हरौनी चौकी का है,
जिसके चंद कदम की दूरी पर ही मुख्य सड़क पर देसी शराब की दुकान है।
जहां पर शराब की दुकान से लेकर हरौनी स्टेशन तक कई जगह सुबह
होते ही शराब की बिक्री धड़ल्ले से चालू हो जाती है,
जो कि मध्य रात्रि तक बिना किसी डर या दबाव के जारी रहती है।

सूत्रों द्वारा जानकारी करने पर यह भी पता चला कि समय के पहले जो शराब बेची जाती है,
उसका दाम भी डेढ़ से 2 गुना रहता है।
शराबी सुबह होते ही इन अवैध दुकानों के आसपास जमा होने लगते हैं व
शराब लेने के बाद वहीं पर पीकर कभी-कभी उत्पात भी मचाते हैं।
जिससे पूरे क्षेत्र में अफरा-तफरी का माहौल रहता है व पूरा क्षेत्र
अवैध शराब की बिक्री का केंद्र बन गया है।

वहीं जब इस संबंध में बंथरा के थाना प्रभारी से बात की गई
तो उन्‍होंने अनभिज्ञता जाहिर करते हुए कहा कि पूरे क्षेत्र में समय से शराब की
दुकाने खुलती व बंद होती हैं कहीं पर भी समय से पहले दुकानों पर शराब बिक्री नहीं हो रही है।
जबकि बंथरा क्षेत्र में नानामऊ व ऐन, गोंदौली, तिरवा अादि गांव में
ध़डल्‍ले से अवैध शराब का करोबार धडल्‍ले से हो रहा है।