हरौनी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में लगी भीषण आग, जरूरी दवाईयां जलकर स्‍वाहा

172

श्रीनिवास सिंह ‘मोनू सिंह’

लखनऊ। राजधानी के बंथरा थाना क्षेत्र स्थित हरौनी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में आज सुबह बिजली से शॉर्ट सर्किट होने की वजह से आग लग गई जिससे पूरी इमारत धू-धू कर जल गई। आग से अस्पताल में मौजूद सभी बिजली के उपकरण, दस्तावेज व स्टोर रूम में रखी दवाइयां जलकर स्वाहा हो गईं।

हरौनी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण व प्रसव की व्यवस्था है जिस कारण अस्पताल रविवार को भी खुला रहता है व मौजूदा पखवाड़े में कुष्ठ रोग निवारण के लिए क्षेत्र में टीकाकरण का अभियान होने की वजह से भी अन्य डॉक्टर अस्पताल में मौजूद थे। तभी उन्हें दूसरे कमरे से कुछ जलने की महक आने लगी जब वहां जाकर देखा तो बिजली के वायरिंग में शॉर्ट सर्किट होने की वजह से आग लग चुकी थी तुरंत मौजूद सभी डॉक्टर व नर्सें बाहर निकलकर अगल बगल रहने वाले लोगों को सूचना देकर बगल में मौजूद पुलिस चौकी को भी सूचित किया।

अस्‍पताल में नहीं थे आग बुझाने के उपकरण

एक ओर जहां सभी सरकारी इमारतों में आग से निपटने के समुचित प्रबंध किये जाते हैं वहीं दूसरी ओर हरौनी के इस स्‍वास्‍थ केंद्र में आग से बचाव का कोई भी उपकरण नहीं है। मौजूद डाक्टर ने बताया कि आग बुझाने का एक सिलेंडर है वह भी मौके पर नहीं मिल पाया। जबकि इमारतो में आग बुझाने के उपकरण सार्वजनिक जगह पर लागाये जाते हैं ताकि किसी दुर्घटना के समय आसानी से इन उपकरणों का प्रयोग किया जा सके।

बताते चलें कि रविवार का दिन होने के चलते अस्‍पताल परिसर में मरीज नहीं थे अगर मरीज होते तो स्थिति और भी भयावाह हो सकती थी। आग बुझााने के उपकरण के अलावा अस्‍पताल परिसर में पानी की भी चमुचित व्‍यावस्‍था नहीं थी अगर पानी की समुचित व्‍यावस्‍था होती तो आग इतना विकराल रूप न ले पाती। ऐसे में यहां आने वाले मरीजो की सुरक्षा भगवान भरोसे है।

बगल रहने वाले लोगों की भीड़ लग चुकी थी। लोग अपनी तरफ से आग बुझाने का प्रयास कर रहे थे। परंतु आग बुझने के बजाए और विकराल रुप ले रही थी, मौके की स्थिति को देखते हुए फायर सर्विस को सूचित किया गया। फायर सर्विस की गाड़ी पहुंचने पर आग पर काबू पाया जा सका।

सूचना पाकर मौके पर भाजपा अनुसूचित मोर्चा के खुशहाल गंज मंडल अध्यक्ष वीरेंद्र कुमार रावत हरौनी गांव के क्षेत्र पंचायत सदस्य अतुल सिंह माखन व नरायनपुर निवासी दीप सिंह पहुँचे।