कुप्रथा : यहां सुहागरात पर ऐसे जाँचा जाता दुल्हन कौमार्य, पास न होने पर दी जाती है सजा

0
350

हमारा देश कई विविधताओ से भरा हुआ देश है हमारे देश में हर 50 किलोमीटर की दूरी के बाद
एक नई प्रथा का उदय हो जाता है।
हमारे देश में रहने वाले विभ्भिन समुदायों के लोगो ने अपने
समुदाय के रीती-रीवाजो के हिसाब से इन प्रथाओ को अपनाया है।

अगर आपकी कुंडली में है मांगलिक दोष तो करें ये उपाय

लेकिन इन्ही प्रथाओ में से कई ऐसी भी कुप्रथाएं है जिसके कारण ये
देश के लिये शर्मींदगी का कारण बन गयी है।
लगभग ये कुप्रथाएं किसी न किसी प्रकार से सभी समुदायों में मौजूद होती है
जिसके कारण लोगो की व्यकतिगत जिन्दगी बहुत हद तक प्रभावित होती है।

वर्जनिटी टेस्ट

आज हम आपको एक ऐसी की कुप्रथा के बारे में बताने जा रहे है
जिसे सुनकर आप हैरान रह जायेगे। महाराष्‍ट्र के पुणे में रहने वाले एक समुदाय में
आज भी औरतो को अपना वर्जनिटी टेस्ट देना पड़ता है
ये वर्जनिटी टेस्ट भी बड़े ही अजीबोगरीब तरीके से लिया जाता है
इस समुदाय का नाम है कंजरभाट समुदाय।

इस समुदाय में रहने वाली औरतो को शादी के बाद अपना वर्जनिटी टेस्ट देना पड़ता है
इसके लिये वर और वधु को एक कमरे में बंद कर दिया जाता है
तथा उनके सोने वाले बेड पर एक सफ़ेद रंग की बेडशीट बिछा दी जाती है
इसके बाद सभी लोग कमरे के बाहर पंचायत लगाकर बैठ जाते है।

अगर सुबह बेडशीट पर खून के धब्बे मिलते है तो लड़की को वर्जिन माना जाता है
और अगर धब्बे नहीं मिलते तो उसे समुदाय पंचायत दुवारा सजा दी जाती है
इस सजा के तौर पर उसे गंभीर यातनाये दी जाती है।

हालांकि इस प्रकार की गलत प्रथा के विरुद्ध इसी समुदाय के
कुछ लोगो में आवाज उठाई है ये लोग अपने ‘Stop the V-Ritual’ कैम्पेन के
जरिये लोगो में जागरूकता लाने की कोशिश कर रहे है।