जबरन प्‍याऊ हटाने पर नजीराबाद में दो पक्षों में टकराव, जमकर हुई मारपीट-पथराव

746

लखनऊ। रमजान महीने के चौथे दिन रविवार को राजधानी लखनऊ की फिज़ा बिगड़ने से बच गई। देर शाम नजीराबाद इलाके में मामूली विवाद से तनाव इतना बढ़ा कि दो पक्षों में जमकर लाठी-डंडे चलें और ईंट-पत्थरों की बौछार शुरू हो गई। कुछ लोगों ने इस दौरान असलहे भी लहराए, जिससे भगदड़ मच गई। पूरे बवाल में तीन लोग घायल हुए हैं।

बवाल की सूचना मिलते ही कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची और लाठीचार्ज करके भीड़ को तितर-बितर किया गया और घायलों को अस्पताल भिजवाया गया।
देर रात मौके पर डीएम और एसएसपी भी पहुंचे।
तनाव को देखते हुए नजीराबाद और आस-पास के इलाकों को छावनी में तब्दील कर दिया गया है।

अमीनाबाद के नजीराबाद स्थित एक शॉपिंग मॉल के पास बड़े मंगल की शुरुआत से ही अस्थायी प्याऊ संचालित हो रहा था।
देर रात एक व्यक्ति वहां पहुंचा और प्याऊ को उस जगह से हटाने के लिए कहने लगा।
इसी बात को लेकर विवाद बढ़ गया।
जिसके बाद एक पक्ष के लोगों ने प्याऊ का काउंटर फेंक दिया।

इस बीच दूसरे पक्ष के लोग भी जमा हो गए।
देखते ही देखते दोनों पक्षों में मारपीट शुरू हो गई और सड़क पर अफरातफरी मच गई।
लोगों ने अपनी दुकानें बंद कर दी।
मारपीट में एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया जबकि दो अन्य को मामूली चोटें आई हैं।

अफवाह फैला कर माहौल बिगाड़ने की कोशिश

डीएम कौशल राज शर्मा ने कहा कि अफवाह फैला कर माहौल बिगाड़ने की कोशिश की गई,
लेकिन पुलिस की तत्परता से स्थिति तुरंत नियंत्रण में कर ली गई।
कुछ लोग चिन्हित किए गए हैं,
उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई की जा रही है।

बताया जा रहा है कि मुन्ना कुरैशी स्टैंड चलाता है और वह वहां गाड़ी खड़ी करने के लिए पानी के काउंटर को हटाकर जगह बना रहा था और तभी विवाद बढ़ गया।

एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि लोगों से शांति बनाए रखने के लिए अपील की गई है।
दो पक्षों में मामूली विवाद हुआ है।
इस विवाद की आड़ में कानून व्यवस्था बिगाड़ने की कोशिश करने वालों पर रासुका के तहत कार्रवाई की जाएगी।