मौसम अपडेट : अगले 48 घंटे  यूपी पर भारी, पूर्वांचल-पश्चिमांचल में अलर्ट  

778

लखनऊ। पश्चिमी यूपी के साथ-साथ पूर्वी यूपी में अगले 48 घंटे काफी चुनौतीपूर्ण हैं।
मौसम विभाग ने 8 और 9 मई को आंधी-तूफान की चेतावनी जारी की है।
मंगलवार को पश्चिमी यूपी के साथ पूर्वी यूपी में भी तेज हवाओं, ओलावृष्टि और बारिश का अलर्ट जारी किया गया है,
जिसके बाद सभी जिलों के जिलाधिकरिर्यों को हाई अलर्ट पर रहने का निर्देश जारी किया गया है।

अधिकांश जिलों के स्कूल बंद कर दिए गए हैं।
सोमवार रात पश्चिमी यूपी में आए आंधी-तूफान से भी लोगों में दहशत का माहौल है।
हालांकि, खतरा अभी टला नहीं है।
अगले 48 घंटे तक पश्विमी और पूर्वी यूपी कई जिलों में
आंधी-पानी और ओलावृष्टि की चेतावनी जारी की गई है।

यूपी में अलर्ट

पश्चिमी यूपी के सहारनपुर, मेरठ, बिजनौर, मुरादाबाद, मुजफ्फरनगर,
आगरा, बरेली, गाज़ियाबाद, नोयडा, रामपुर, हापुड़,
संभल में आंधी-पानी की संभावना जताई गई है।
पूर्वी यूपी के गोरखपुर, देवरिया, महाराजगंज, बलिया, बहराइच में भी
आंधी-पानी का अलर्ट जारी किया गया है।

लखनऊ स्थित आंचलिक मौसम केंद्र के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि
उत्तरी पाकिस्तान और जम्मू कश्मीर के ऊपर पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है।
मंगलवार को पश्चिमी और पूर्वी उत्तर प्रदेश में कई स्थानों पर धूलभरी
आंधी और गरज-चमक के साथ बारिश होने का अनुमान है।

इसके अलावा उत्तर-पश्चिम राजस्थान और मध्य प्रदेश के ऊपर एक टर्फ भी विकसित हुआ है।
पश्चिम बंगाल के ऊपर चक्रवातीय दबाव भी केन्द्रित है,
जिसके चलते बिहार समेत कई राज्यों में भारी बारिश का अनुमान है।

मौसम विभाग के अलर्ट के मद्देनजर शासन ने भी दिशा निर्देश जारी किए हैं।
संभावित जिलों के जिलाधिकारियों को अलर्ट किया गया है।

मौसम में बदलाव की किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने के दिशा निर्देश दिए गए हैं। पश्चिमी यूपी से जुड़े अधिकांश जिलों के स्कूलों में आज छुट्टी कर दी गई है।

इससे पहले, सोमवार रात आए आंधी-तूफान से कई जिलों के विभिन्न इलाकों की बिजली व्यवस्था ठप हो गई।
पश्चिमी यूपी में बीती रात आए आंधी-तूफान से बड़े नुकसान की आशंका भी जताई जा रही है।
आंधी-तूफान के बाद राहत कार्य के साथ नुकसान के आकलन का कार्य भी जारी है।