खुलासा : दलित के घर पहुंचे योगी के मंत्री ने होटल से मंगाकर खाया खाना

0
485

लखनऊ। दलितों के मुद्दे पर भाजपा इस समय देश में घिरी हुई है।
भारतीय जनता पार्टी इन दिनों दलितों को मनाने की कोशिश कर रही है।
उत्तर प्रदेश सरकार में कई मंत्री दलितों के घर जाकर खाना खा रहे हैं,
खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी ऐसा ही किया था।
लेकिन इस बीच एक विवाद सामने आया है।

यह भी पढें:- पत्रकार जेडे हत्‍याकांड में माफिया छोटा राजन दोषी करार, जिग्‍ना वोरा…

योगी सरकार में राज्य मंत्री सुरेश राणा मंगलवार को जब अलीगढ़ में
एक दलित के घर खाना खाने पहुंचे तो बढ़े ही लाव-लश्कर के साथ होटल से मंगाया हुआ खाना खाया।
दलितों के साथ जुड़ा रहने की छवि बनाने में जुटी यूपी सरकार के लिए ये दांव उल्टा पड़ गया।

यह भी पढें:- आत्मघाती हमले से थर्राया नाइजीरिया, 60 से ज्‍यादा की मौत

हालांकि, सुरेश राणा का कहना है कि खाना गांव के दलितों के द्वारा ही बनाया गया था,
जो हम सभी ने खाया था।
जिन्होंने इसका आयोजन किया था वह भी दलित विधायक ही थे।

कुछ लोगों को पीएम मोदी और सीएम योगी का काम पसंद नहीं आ रहा है,
इसलिए इस प्रकार के विवाद पैदा कर रहे हैं।

अलीगढ़ की तहसील खैर इलाके में जब खाना खाने पहुंचे तो उन्होंने वहां सलाद, दाल-मखनी, छोले-चावल, पालक-पनीर, उड़द की दाल, मिक्स वेज, रायता, तंदूरी रोटी के अलावा मिठाई में गुलाब-जामुन, कॉफी और मिनरल वाटर का लुत्फ उठाया।

यह भी पढें:- डीएम के साथ विदाई गीत गा रहे एसपी हुए इमोशनल, सरेआम…

इतना ही नहीं बीजेपी की ओर से कोशिश है कि सरकार के
मंत्री दलित के घर ही रात गुजारें और खाना वहां पर खाएं।
लेकिन, सुरेश राणा दलित के घर पर रुकने की बजाय सामुदायिक केंद्र में
रुके जहां उनके आराम के लिए पूरा इंतजाम किया गया था।

आपको बता दें कि पिछले दिनों योगी आदित्यनाथ ने भी प्रदेश के प्रतापगढ़
इलाके में दलित परिवार के घर जाकर खाना खाया था।
गौरतलब है कि योगी के दलित के घर खाना खाने को लेकर भी विवाद हुआ था।

तब कहा गया था कि योगी के लिए रोटी उनकी ही मंत्री स्वाति सिंह ने ही बनाई थी।
गौरतलब है कि स्वाति सिंह ठाकुर जाति से आती हैं,
जिसको लेकर बसपा ने योगी पर निशाना साधा था।