कुलदपि सिंह सेंगर केस का खामियाजा, पुष्‍पांजलि देवी DGP मुख्‍यालय अटैच, 36 आईपीएस इधर से उधर

0
410

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने रविवार को के 36 आईपीएस अफसरों का तबादला कर दिया।
इसमें 17 जिलों में नए पुलिस कप्तानों की तैनाती की गई है।
मेरठ की एसएसपी मंजिल सैनी को बाल्य देखभाल अवकाश दिया गया है।
वहीं अलीगढ़ के एसएसपी राजेश कुमार पांडेय को उनकी जगह मेरठ का एसएसपी नियुक्त किया गया है।
गौरतलब है कि हमने 28 अप्रैल को ही अपने पाठकों को बता दिया था कि यूपी में बड़े स्तर पर आईपीएस अधिकारियों के तबादले होने जा रहे हैं।

वहीं उन्नाव जिले की पुलिस कप्तान पुष्पांजलि देवी को डीजीपी मुख्यालय पर तैनात किया गया है।
उनके स्थान पर हरीश कुमार को उन्नाव भेजा गया है।
हरीश कुमार लंबे समय से नान डीएफ में तैनात चल रहे थे।
दरअसल, उन्नाव गैंगरेप मामले में लापरवाही को लेकर पुष्पांजलि पर सवाल उठ रहे थे।
ऐसे में उन्हें हटाने को लेकर पहले से ही कयास लगाए जा रहे थे।

मनोज कुमार फैजाबाद एसएसपी

डीआईजी के पद पर प्रमोशन पाने वाले सुभाष सिंह बघेल को डीआईजी सुरक्षा बनाया गया है।
शिवा सिम्मी चन्नप्पा को खीरी से शाहजहांपुर, केबी सिंह को शाहजहांपुर से बुलंदशहर, सभाराज को 24वीं पीएसी मुरादाबाद से बहराइच भेजा गया है।
पुलिस मुख्यालय इलाहाबाद में एसपी राजेश कुमार अब बलरामपुर के एसपी होंगे।
एटीएस सीतापुर में तैनात राहुल यादवेंद्र को फिरोजाबाद का एसपी बनाया गया है।

हिमांशु कुमार और मोहित अग्रवाल को तैनाती

डीजीपी मुख्यालय में लंबे समय से तैनात हिमांशु कुमार को एसपी रेलवे झांसी बनाया गया हैं।
मोहित अग्रवाल को यूपी 100 भेजा गया है।
पूजा यादव को अपर पुलिस अधीक्षक फतेहपुर बनाया गया है
जबकि आगरा में तैनात रवीना त्यागी को कानपुर नगर का अपर पुलिस अधीक्षक बनाया गया है।

अलीगढ़ के एसएसपी राजेश पांडेय अब मेरठ के एसएसपी होंगे।
यहां तैनात रहीं मंजिल सैनी चार माह की छुट्टी पर हैं।
आजमगढ़ के एसएसपी अजय साहनी अब अलीगढ़ के नए एसएसपी होंगे।
रवि शंकर छवि आजमगढ़ के नए एसएसपी होंगे।

बरेली के एसएसपी को भी हटाकर एटीएस लखनऊ में नया एसएसपी बनाया गया है।
पीलीभीत में तैनात कलानिधि नैथानी अब अलीगढ़ के एसएसपी होंगे।
एटीएस तैनात उमेश कुमार श्रीवास्तव का डीआईजी के पद पर प्रमोशन होने के बाद उन्हें डीआईजी कारागार बना दिया गया है।

विजय ढुल को एसपी श्रावस्ती के पद से हटा दिया गया है,
उन्हें मानवाधिकार भेजा गया है।