यूपी में एक के बाद एक छह इनकांउटर, नोयडा में एक लाख की इनामी बदमाश ढेर

0
1184

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में देर रात एक के बाद एक छह
एनकाउंटर में पुलिस ने दो बदमाशों को मार गिराया।
नोएडा में पुलिस ने एक लाख के इनामी श्रवन चौधरी को ढेर कर दिया।
दिल्ली और नोएडा के कई मर्डर केस में संलिप्त श्रवन काफी दिनों से फरार था।
पुलिस ने मुठभेड़ स्थल से एके-47, एसबीबीएल गन और स्विफ्ट डिजायर बरामद किये हैं।

90 साल की उम्र में समधन से आशनाई की मिली दर्दनाक…

डीजीपी मुख्यालय ने एक बयान में कहा कि दिल्ली और नोएडा के मर्डर केस में 50-50 हजार रुपये के इनामी बदमाश पुलिस के साथ मुठभेड़ में आज सुबह मारा गया।

घटना स्थल से एक एके-47 और एक एसबीबीएल गन बरामद किये गये हैं।
पुलिस के मुताबिक दादरी में भी नोएडा पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई है।
मुठभेड़ में 25 हजार रुपये का इनामी बदमाश जितेंद्र घायल हो गया।
जिसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।

गाजियाबाद में भी मुठभेड़

गाजियाबाद में भी देर रात पुलिस और बदमाशों के बीच दो मुठभेड़ हुई।
विजय नगर इलाके में पुलिस और बदमाशों की मुठभेड़ हुई वहीं दूसरी ओर थाना सिहानीगेट के राजनगर एक्सटेंशन इलाके में वाहन चेकिंग के दौरान बाइक सवार 2 बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी।
जिसमें एक कांस्टेबल घायल हो गया वहीं पुलिस की जवाबी कार्यवाही में एक बदमाश को भी गोली लगी जबकि दूसरा मौके का फायदा उठाकर भाग गया।

दोनों घायलों को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
घायल बदमाश का नाम राहुल है और इसपर के आपराधिक मामले दर्ज हैं।
राहुल हापुड़ के पिलुख्वा इलाके का रहने वाला है।

सहारनपुर में बदमाश ढेर

शनिवार देर रात सहारनपुर में पुलिस ने 25 हजार रुपये के
इनामी बदमाश सलीम को मुठभेड़ में मार गिराया।
इस दौरान एक पुलिसकर्मी भी जख्मी हो गए।

पुलिस ने घटना स्थल से एक लाख रुपये,
एक मोटरसाइकिल और पिस्टल बरामद किये हैं।
वहीं मुजफ्फरनगर में पुलिस की फायरिंग में दो बदमाशों घायल हुए हैं।

एक दरोगा को भी गोली लगी है।
तीनों घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
बदमाशों पर लूट, हत्या और डकैती के दर्जनों मामले दर्ज हैं।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद से लगातार बदमाशों और पुलिस के बीच मुठभेड़ की खबर आती रही है।
योगी आदित्यनाथ ने पिछले दिनों एबीपी न्यूज़ से बात करते हुए कहा था कि अगर बदमाश पुलिस पर गोलियां चलाएंगे तो उन्हें गोलियों से ही जबाव दिया जाएगा।
साथ एनकाउंटर पर उठने वाले सवालों पर योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि एक भी एनकाउंटर फर्जी नहीं है।