जम्‍मू–कश्‍मीर में फिर लहराये पाक झंडे, अलगाववादी महिला ने हिंदूओं को कहा…

0
1029

जम्‍मू। शुक्रवार को फिर कश्मीर में पाकिस्तान के झंडे लहराए गये।
इस बार कश्मीर में अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी ने कहा कि पाकिस्तान मुसलमानों का देश है।
इसकी स्थापना राष्ट्रीयता के आधार पर नहीं हुई थी। दुख्तरीन-ए-मिल्लत की मुखिया ने कहा कि इस्लाम पाकिस्तान का आधार है।

जम्मू-कश्मीर की अलगाववादी नेता और दुख्तरीन ए मिल्लत की चीफ आसिया अंद्राबी ने जम्मू कश्मीर में पाकिस्तान का राष्ट्रीय दिवस मनाया।

आसिया का एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें वो बुर्का पहने हुए स्पीच दे रही हैं।
उसके दोनों तरफ बुर्के में दो महिलाएं खड़ी हुई हैं जो पाकिस्तान का झंडा लहरा रही हैं।
आसिया के सामने भी कई महिलाएं बुर्का पहने हुई बैठी हैं।

योगी सरकार बजट का बजट तैयार करेगा पांच मजबूत स्तंभ :…

इस दौरान आसिया ने कहा कि ‘लोग या तो मुसलमान होते हैं या फिर काफिर’।

आसिया ने कहा कि ‘हर मुसलमान पाकिस्तानी है, इस्लाम के बुनियाद पर,
ईमान के बुनियाद पर, कुरान के हिसाब से, मोहम्मद स. की मुहब्बत की बुनियाद पर, हम पाकिस्तानी हैं, पाकिस्तान हमारा है।
हम दुनिया के किसी भी हिस्से में रहते हो, हम पाकिस्तानी हैं, क्योंकि पाकिस्तान हमें ईमान की बुनियाद पर मिला है।
इस्लाम की बुनियाद पर मिला है। हम तमाम देशभक्ति को पांव तले रौंदते हैं,
जो नेशनलिज्म जो हमें किसी खास मुल्क, खास वतन के साथ जोड़ता है, पाकिस्तान मुल्क नहीं, पाकिस्तान नजरिया है।’

कौन है आसिया अंद्राबी

54 साल की आसिया अंद्राबी अक्सर भारत के खिलाफ जहर उगलती रहती है।
इसी साल फरवरी महीने में आसिया ने एक वीडियो ट्वीट किया था।
इसमें तीन हथियारबंद नकाबपोश इंडियन आर्मी के बारे में आपत्तिजनक बात कर रहे थे। ये लोग खुद को कश्मीर मुजाहिद्दीन का सदस्य बता रहे थे।
इनका कहना था कि भारतीय सेना हाफिज सईद और मसूद अजहर को मारने का सपना देख रही है।

षष्टम कात्यायनी : महर्षि पाराशर ज्योतिष संस्थान के ज्योतिषाचार्य पंडित राकेश…

आसिया अंद्राबी को भारत विरोधी गतिविधियों के आरोप में कई बार गिरफ्तार किया जा चुका है।

2017 में दिसंबर के आखिरी हफ्ते में उन्हें दो दिनों तक जेल में रखने के बाद रिहा किया गया था।
आसिया को 2010 के एक मामले में गिरफ्तार किया गया था।

इससे पहले पिछले साल मई में भी पब्लिक सेफ्ट एक्ट तोड़ने के आरोप में आसिया को गिरफ्तार किया जा चुका है।

मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद भी आसिया अंद्राबी से अपने संबंधों को मान चुका है।
हाफिज सईद आसिया अंद्राबी से फोन पर बात करने के तथ्य को स्वीकार भी कर चुका है।

हिज्बुल कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद भी आसिया ने इंडियन आर्मी और इंडिया के खिलाफ भड़काऊ बयान दिये थे।